Daily News

Pink Whatsapp Ultimate Feature | Whatsapp Pink

Pink Whatsapp Ultimate Feature | Whatsapp Pink

व्हाट्सएप पिंक: एक नया स्कैम जो आपके डाटा को चुरा सकता है

व्हाट्सएप पर हर रोज कुछ न कुछ स्कैम होता ही रहता है, जिससे करोड़ों यूजर्स को परेशानी का सामना करना पड़ता है। हाल ही में, व्हाट्सएप पिंक के नाम से एक नया स्कैम सामने आया है, जो कि एक फर्जी ऐप है, जो आपके पर्सनल डाटा को चुरा सकता है, साथ ही आपके फ़ोन को हैक कर सकता है।

तो, व्हाट्सएप पिंक क्या है, और इससे कैसे बचा जा सकता है? आइए, पता करते हैं।

व्हाट्सएप पिंक एक मालिशियस (malicious) ऐप है, जो व्हाट्सएप के नाम पर लोगों को बेवकूफ बनाती है। इस में लिखा होता हैकि यह व्हाट्सएप का नया संस्करण हैजिसमें पिंक (pink) रंग की थीम (theme) होती हैसाथ ही नए-नए सुविधाओं (features) के साथ मिलती हैं.

लेकिन, सच्चाई में, ये सिर्फ मुंह-में-राम-राम-, – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – -बगल-में-छुरी- का-काम-करता-है. ऐप डाउनलोड करने के लिए आपका फोन नंबर, संपर्क सूची, फोटो, बैंकिंग विवरण और कोई व्यक्तिगत डेटा चोरी हो सकता है। इसके अलावा, क्या ऐप से आपके फोन में मैलवेयर (खराब सॉफ्टवेयर) भी इंस्टॉल हो सकता है, जिसके हैकर्स आपके फोन को रिमोट से (डोर से) कंट्रोल कर सकते हैं।

Whatsapp Scam काम कैसा है? क्या स्कैम में हैकर्स ने आपको एक मैसेज भेजा है, जो लगता है वो व्हाट्सएप से ही है। मैसेज में लिखा होता है कि “व्हाट्सएप पिंक के लिए एक नया अपडेट है। इसे डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें।” मैसेज के साथ एक लिंक भी होता है, जो एक वेबसाइट पर ले जाता है। वेबसाइट बहुत ही आधिकारिक व्हाट्सएप वेबसाइट जैसी दिखती है, लेकिन ये फर्जी और स्कैमर्स की है।

अगर आप लिंक पर क्लिक करके फर्जी ऐप डाउनलोड करते हैं, तो आप देखेंगे कि आपका व्हाट्सएप आइकन गुलाबी हो जाएगा। ऐप फिर आपसे आपका फोन नंबर और पासवर्ड मांगेगा। जब आप ये डाल देते हैं, तो स्कैमर्स को आपका व्हाट्सएप अकाउंट और सारा पर्सनल डेटा मिल जाता है। वो फिर आपके संपर्कों को संदेश भेज सकते हैं, और घोटाला विफल हो सकता है।

ये घोटाला पहली बार राजशेखर राजाहरिया, एक इंटरनेट सुरक्षा शोधकर्ता, ने अप्रैल 2021 में पता लगाया था1। एक ट्वीट करके यूजर्स को स्कैम के बारे में चेतावनी दी थी, और फर्जी ऐप के कुछ स्क्रीनशॉट भी शेयर किए थे। अनहोनी लिखा था “@व्हाट्सएप पिंक से सावधान!! #व्हाट्सएप ग्रुप में एपीके डाउनलोड लिंक के साथ एक वायरस फैलाया जा रहा है। व्हाट्सएप पिंक के नाम से किसी भी लिंक पर क्लिक न करें। आपके फोन तक पूरी पहुंच खत्म हो जाएगी। शेयर करें सभी…”2

व्हाट्सएप पिंक जैसे स्कैम से कैसे सुरक्षित रहें?
यदि आप खुद को ऐसे स्कैम से बचाना चाहते हैं, तो केवल Google Play Store जैसे विश्वसनीय जगह से ही एप्स डाउनलोड और इंस्टॉल करें। हालांकि, आईफोन यूजर्स को चिंता करने की जरूरत नहीं है क्योंकि एपल अनजान स्रोतों से एप्लिकेशन इंस्टॉल करने की अनुमति नहीं देता है।

Pink Whatsapp Ultimate Feature | Whatsapp Pink
Pink Whatsapp Ultimate Feature | Whatsapp Pink

इसके अलावा, अनजान वेबसाइट से एप्स या अज्ञात लोगों द्वारा भेजे गए एपीके इंस्टॉल करने से बचें। आप बार-बार भेजे गए मैसेज के साथ व्हाट्सएप का ‘फॉरवर्डेड’ लेबल भी देख सकते हैं, जो यह बताता है कि मैसेज को कई लोगों को भेजा गया है। यदि मैसेज के साथ फॉरवर्डेड लेबल है तो आपको ऐसी लिंक पर क्लिक करने से परहेज करना चाहिए।

ऐसे करें व्हाट्सएप पिंक को अनइंस्टॉल?
व्हाट्सएप पिंक से छुटकारा पाने के लिए, व्हाट्सएप में ‘लिंक्ड डिवाइस’ सेक्शन से सभी संदिग्ध डिवाइस को अनलिंक करें। सिक्योरिटी रिसर्चर ने बताया कि एक बार जब आप व्हाट्सएप पिंक इंस्टॉल करते हैं, तो एप इंस्टॉल किए गए एप्स की लिस्ट से खुद को हाइड कर सकता है। यदि आप इसे ढूंढना चाहते हैं, तो अपने फोन की सेटिंग एप से ‘एप्स’ सेक्शन पर जाएं, पिंक लोगो के साथ ‘व्हाट्सएप पिंक’ ढूंढें और अनइंस्टॉल बटन दबाएं। कभी-कभी आपको फोन में ऐसे एप भी दिखाई देते हैं, जिन्हें आपके डाउनलोड नहीं किया है, ऐसे एप्स को भी तुरंत अनइंस्टॉल कर दें।

  • किसी भी लिंक पर क्लिक न करें, जो कहता हो कि यह whatsapp ya kisi aur app ka official update hai. Hamesha apps trusted sources jaise Google Play Store ya App Store se hi download karein.
  • अपना फ़ोन नंबर या पासवर्ड किसी भी ऐप में न डालें, जिसके बारे में आप सुनिश्चित नहीं हैं. Whatsapp kabhi bhi aapse password ya verification code nahi maangta hai.
  • ‘Forwarded’ label ka check karein kisi bhi message par jo aapko whatsapp par milta hai. Agar message kisi aur se forward kiya gaya hai, toh yeh scam ya hoax ho sakta hai.
  • कोई भी संदिग्ध ऐप तुरंत अनइंस्टॉल करें अपने फ़ोन से. Aap phone settings mein app list dekh sakte hain, aur koi bhi app jo naam nahi rakhta hai ya pink logo rakhta hai, use hata sakte hain.
  • कोई भी scam message ko whatsapp ko report karein menu button dabakar aur ‘Report’ chun kar.

मुझे उम्मीद है कि यह लेख मददगार और सूचनापूर्ण होगा. अगर आपको पसंद आया, तो कृपया मुझे feedback dein aur is lekh ko apne doston aur parivaar ke saath share karein,

Saiyed Irfan

Irfan Saiyed, the founder of @ItechIrfan, has become a notable figure in the tech segment on YouTube, with an impressive subscriber base of 1.82 million and counting. Based in Bharuch, Gujarat, India, Irfan was born on 6th July 1986 and has established himself as a trusted voice in the world of technology.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close
Back to top button