टाइगर की घटती संख्या और इसके संरक्षण के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए हर साल 29 जुलाई को इंटरनेशनल टाइगर डे मनाया जाता है। रिपोर्ट के मुताबिक नेशनल टाइगर कंजर्वेशन अथॉरिटी के मुताबिक 2014 में आखिरी बार जब टाइगर की गिनती हुई थी अगर हम बात करें इंडिया में तब टाइगर 2226 थे। जबकि अगर हम बात करें 2010 की तब बाघों की संख्या 1706 थी। और नहीं आंकड़ों के मुताबिक आज के वक्त इंडिया में टाइगर की संख्या 2967 तक पहुंच चुकी है।और दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंटरनेशनल टाइगर डे पर ऑल इंडिया टाइगर ऐस्टीमेशन 2018 जारी किया है। इसका मतलब यह हुआ कि 2014 के मुकाबले आज के वक्त टाइगर की संख्या में 741 तक की बढ़ोतरी हो चुकी है

अब हम जानेंगे किस दिन को कब से मनाना शुरू किया गया है
बाबू को प्रोटेक्ट करने के लिए लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए उनकी घटती संख्या के प्रति लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए 2010 में रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में आयोजित एक शिखर सम्मेलन में इंटरनेशनल टाइगर डे मनाने की घोषणा की थी।और इस सम्मेलन में मौजूद कई देशों की सरकारों ने 2022 तक टाइगर की आबादी को दोगुना बढ़ाने का लक्ष्य भी बनाया था।

10 Rupees

Hold And Save Image

 

अब हम जानते हैं कि पूरी दुनिया में कितने टाइगर है।
वर्ल्ड वाइल्डलाइफ फंड डब्ल्यूडब्ल्यूएफ के मुताबिक दुनिया में लगभग 3900 टाइगर ही बचे हैं बीसवीं सदी की शुरुआत के बाद वैश्विक स्तर पर 95 फ़ीसदी से अधिक बाघ की अवधि कम हो गई है 1915 में बाघों की संख्या 100000 से भी ज्यादा थी

इतनी तेजी से बाग की आबादी क्यों कम होती है?

इसके कई कारण है वन क्षेत्र घटना है। इसे बढ़ाना और संरक्षित रखना सबसे बड़ी चुनौती है। चमड़े हड्डियां एवं शरीर के अन्य भागों के लिए अवैध शिकार जलवायु परिवर्तन जैसी भी चुनौतियां शामिल है।

अब मैं आपको बता देता हूं कि अभी तक कितनी बाघों की प्रजातियां जिंदा है।
साइबेरियन टाइगर बंगाल टाइगर इंडोचाइनीस टाइगर लायन टाइगर सुमात्रण टाइगर यह सारी प्रजातियां हाल जिंदा है अब हम बात करते हैं विलुप्त हो चुकी प्रजातियों के बारे में तो सबसे पहली है बाली टाइगर कैस्पियन टाइगर और जावण टाइगर यह प्रजाति वीलुप्त हो चुकी है

अब हम बात करते हैं प्रोजेक्ट टाइगर के बारे में।।
सन 1978 में तत्कालीन पीएम इंदिरा गांधी ने टाइगर प्रोजेक्ट की शुरुआत की थी इस प्रोजेक्ट का उद्देश्य भारत में उपलब्ध बाघों की संख्या के वैज्ञानिक आर्थिक सांस्कृतिक और पारिस्थितिक मूल्यों का संरक्षण सुनिश्चित करना है इसके अंतर्गत अब तक 50 टाइगर रिजर्व बनाए जा चुके हैं

 

Augmented Reality(AR) version of Pulimurugan Movie Official 3D Game. It may be the first AR game based on a movie in India!

Pulimurugan is a 3D casual game from Csharks Games based on a Malayalam movie ‘Pulimurugan’ starring the legendary actor Mohanlal. Its a free action game featuring the fight between Pulimurugan and the tiger. The game targets the fans of Pulimurugan & Super Star Mohanlal. Being a promotional game, it is designed for non-gamers with simple & easy controls.

How to Play

> Take 10 Rupee Indian Currency, preferably the latest one released in years 2014, 2015, 2016

> Open the game and scan the back side of the currency with tiger image

The 3D world will appear on the currency ( but it may depends on currency quality, lighting conditions and device camera features)

 

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *